About Us

अपने स्थापना-काल सन् 1958 से ही ‘उचित मूल्य पर अच्छी पुस्तकें’ प्रभात प्रकाशन का नीतिगत सिद्धांत रहा है। लगभग पैंतालीस वर्षों से साहित्य की प्रायः सभी विधाओं में एक विस्तृत पाठक वर्ग को श्रेष्ठतम पाठ्य सामग्री उपलब्ध कराते हुए प्रभात प्रकाशन वर्तमान में देश में हिंदी पुस्तकों के प्रमुख और सर्वश्रेष्ठ प्रकाशन के रूप में 2,500 पुस्तकों का प्रकाशन कर अपनी पहचान बना चुका है।

हिंदी प्रकाशन में विज्ञान, गणित, स्वास्थ्य, मानविकी इत्यादि विषयों पर पुस्तकों का अभाव था। इन विषयों पर लोकप्रिय पुस्तकें उपलब्ध कराने के उद्देश्य से प्रभात प्रकाशन देश के प्रतिष्ठित लेखकों को पांडुलिपियाँ तैयार करने का कार्य सौंपा।

प्रभात प्रकाशन द्वारा कथा साहित्य, भाषा-विज्ञान, शब्दकोश, हास्य-व्यंग्य, प्राचीन साहित्य, गणित, पर्यावरण, निबंध, समालोचना, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, पाक कला, इतिहास, राजनीति, धर्म व संस्कृति तथा स्वास्थ्य पर पुस्तकें प्रकाशित हैं। भारत के लगभग सभी स्थापित लेखकों के अलावा नोबेल पुरस्कार से सम्मानित रवींद्रनाथ टैगोर, वी.एस. नायपॉल, मोहम्मद यूनुस और शरतचंद्र चट्टोपाध्याय, वृंदावनलाल वर्मा तथा विष्णु प्रभाकर की संपूर्ण रचनाएँ शामिल हैं।

भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम, पूर्व राष्ट्रपति डॉ. शंकर दयाल शर्मा, पूर्व उपराष्ट्रपति श्री भैरोंसिंह शेखावत, पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी, पूर्व उप-प्रधानमंत्री श्री लालकृष्ण आडवाणी, अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा, अमेरिका की रक्षा मंत्री हिलेरी क्लिंटन, अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन, जे.आर.डी. टाटा, दलाई लामा, सरदार पटेल, दीपक चोपड़ा, रोबिन शर्मा, उपन्यासकार चेतन भगत आदि सार्वजनिक जीवन के अनेक प्रख्यात व प्रतिष्ठित महानुभावों की रचनाएँ प्रकाशित करने का गौरव प्रभात प्रकाशन को प्राप्त है।

प्रभात प्रकाशन अंग्रेजी तथा अन्य भारतीय भाषाओं में भी पुस्तकें प्रकाशित करता है। प्रभात प्रकाशन को छह भारतीय भाषाओं—हिंदी, उर्दू, मलयाळम, कन्नड़, उडि़या, तेलुगु—तथा अंग्रेजी में बच्चों के लिए पुस्तकें प्रकाशित करनेवाले एकमात्र निजी क्षेत्र का प्रकाशन संस्थान होने का अनूठा सम्मान प्राप्त है।

प्रकाशन में हमारी उत्तम गुणवत्ता को देखते हुए यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि पिछले दस वर्षों से प्रभात प्रकाशन को भारतीय प्रकाशन उद्योग के मुख्य संघ ‘फेडरेशन ऑफ इंडियन पब्लिशर्स’ द्वारा लगातार ‘प्रकाशन में श्रेष्ठता’ के लिए प्रथम पुरस्कार प्राप्त हो रहा है।

पाठकों को कम मूल्य पर पुस्तकें उपलब्ध कराकर उनकी साहित्यिक अभिरुचि में श्रीवृद्धि करने की दृष्टि से प्रभात प्रकाशन ने ‘प्रभात पेपरबैक्स’ नामक संस्थान के बैनर तले प्रकाशन प्रारंभ किया और लोकप्रिय एवं जनोपयोगी पुस्तकों का अल्पमोली संस्करण प्रकाशित किया। ओशियन बुक्स प्राइवेट लिमिटेड प्रभात प्रकाशन का सहयोगी संस्थान है, जो प्रभात प्रकाशन की नीति के अनुरूप अंग्रेजी भाषा में पुस्तकें प्रकाशित करता है।

हिंदी में बंद होती साहित्यिक पत्रिकाओं से उत्पन्न शून्य की पूर्ति करने तथा पाठकों को अच्छी पठन सामग्री उपलब्ध कराने के लिए प्रभात प्रकाशन ने अगस्त 1995 में लब्धप्रतिष्ठ साहित्यकार पं. विद्यानिवास मिश्र के संपादकत्व में ‘साहित्य अमृत’ नामक मासिक साहित्यिक पत्रिका का प्रकाशन प्रारंभ किया, जो अब हिंदी साहित्यिक जगत् में एक सुपरिचित नाम बन गया है।

प्रभात प्रकाशन की गुणवत्ता-नीति को देखते हुए अंतरराष्ट्रीय मानक संस्थान ने हमें ISO 90012008 प्रकाशक से प्रमाणित किया है, जो विश्व में पहली बार किसी हिंदी प्रकाशन संस्थान को दिया गया है।

Prabhat Prakashan, an ISO 9001:2008 certified company, is one of the leading publishing houses in India. We have a glorious history of fifty years of publishing quality books on almost all streams of literature, viz. children books, fiction, science, quiz, humanities, personality development, health, dictionaries, encyclopedias, etc. For the last fifteen years we have been continuously winning accolades for excellence in book publication.

Our list of authors includes persons of repute like former President of India, Dr. A.P.J. Abdul Kalam; Nobel laureates, Sir V.S. Naipaul and Mohd. Yunus; President of America, Barack Obama, American foreign secretary Mrs. Hillary Clinton, former President of USA, Bill Clinton; former Prime Minister of India, Atal Bihari Vajpayee; former Deputy Prime Ministers of India, L.K. Advani and Sardar Vallabhbhai Patel; noted social activist H.H. Dalai Lama and renowned industrialist J.R.D. Tata. Other contemporary writers include Verghese Kurien, ‘The father of White revolution in India’; former director general of CSIR, R.A. Mashelkar; noted journalist Arun Shourie; social activist Sudha Murthy; famous authors Chetan Bhagat, Deepak Chopra, Robin Sharma, John Wood; former parliamentarian Dr. L.M. Singhvi; business tycoon such as Dr. Vijaypat Singhania, Kishore Biyani and many more. Ocean Books Pvt. Ltd., our English division, is also an ISO 9001:2008 certified company publishing books on various topics of general interest.

Prabhat Prakashan is one of pioneer publishers of children books in Hindi. Also publishing Sahitya Amrit—a reputed leading Hindi literary monthly since Aug, 1995.